Create an Account

आदिवासियों के रीती - रिवाजों का सामाजिक - आर्थिक अध्ययन

Socio – Economic Study Of Rituals Of Tribals (Hindi)

695.00

ISBN: 9788179066683
Categories:
ISBN 9788179066683
Name of Authors Dr. Sonal Raj Kothari
Name of Authors (Hindi) डॉ. सोनल राज कोठारी
Edition 1st
Book Type Hard Back
Year 2019
Pages 243
Language Hindi

आदिवासियों की सांस्कृतिक धरोहर विल्शन है, यथा - जीवन चक्र, जन्म से लेकर म्रत्यु तक मेलें, त्योहार एवं धार्मिक पर्वों पर अनेक रीती - रिवाज होते है, जिन्हें ये पूर्ण मनोयोग से मानते है| ये लोग अपनी दयनीय आर्थिक स्थिति होने के उपरान्त भी कही से भी कर्ज लेकर रीती - रिवाजों एवं प्रचलित प्रथाओं को पूरा करते है| इनके रीती - रिवाजों के महत्त्व को ध्यान में रखते हुए ही यह शोध अध्ययन किया गया है| इस शोध अध्ययन में दक्षिणी राजस्थान के आदिवासियों के रीती - रिवाजों के अध्ययन के साथ ही, इनके सामाजिक एवं आर्थिक प्रभाव तथा रीती - रिवाजों में होने वाले परिवर्तनों का भी अध्ययन किया गया है| अध्ययन में पाया गया है की यातायात के साधनों के विकास, शिक्षा के प्रसार व आदिवासियों के अन्य उच्च समाज के व्यक्तिओं के संपर्क में आने एवं सर्कार की योजनाओं से लाभान्वित होने के कारन इनके रीती - रिवाजों में परिवर्तन हो रहा है| ये मितव्ययि बन रहे है तथा इनकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ हो रही है| यह अध्ययन आदिवासियों की संस्कृतिक धरोहर को संरक्षण प्रधान करने एवं इनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हेतु मार्गदर्शक की भूमिका अदा करेगा|

डॉ. सोनल राज कोठारी मूलतः चितौडगढ़ जिले की निम्बाहेड़ा तहसील के कनेर गावं की मूल निवासी है| आपने उच्च माध्यमिक परीक्षा में चित्तौडगढ़ किले की मेरिट में चतुर्थ स्थान प्राप्त किया| आपने कला वर्ग में स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षा मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय, उदयपुर से उत्तीर्ण की तथा विश्वविद्यालय की मेरिट में चतुर्थ स्थान प्राप्त किया| आपने नेट व स्लेट की परीक्षा भी उत्तीर्ण की है| आपने मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय, उदयपुर व भूपाल नोबल्स स्नातकोत्तर कन्या महाविद्यालय, उदयपुर में आर्थशास्त्र विषय में अध्य्यापन का कार्य किया है| वर्तमान में आप सांख्यिकी अधिकारी के पद पर कार्यालय ब्लॉक सांख्यिकी अधिकारी, पंचायत समिति कुराबड़, जिला - उदयपुर में कार्यरत है|

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Socio – Economic Study Of Rituals Of Tribals (Hindi)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *